राजेन्द्र सिंह नामदेव को बीजेपी ने दिखाया बाहर का रास्ता

भोपाल:  पीडि़ता की मदद के नाम पर उससे छेड़छाड़ करने के प्रयास के आरोप में फ़से मध्यप्रदेश सिलाई कला मंडल के उपाध्यक्ष राजेन्द्र सिंह नामदेव का राज्यमंत्री का दर्जा छीनकर बीजेपी ने प्राथमिक सदस्यता से भी निलंबित कर दिया है, दूसरी तरफ  पुलिस का कहना है कि दोनों पक्षों के खिलाफ जांच के बाद अगली कार्यवाही की जाएगी, पुलिस होटल के वीडियो फुटेज भी खंगाल रही है. गौरतलब है कि राजेंद्र नामदेव के खिलाफ  सिवनी की रहने वाली एसिड अटैक पीडि़ता ने रविवार को छेड़छाड़ केस दर्ज कराया था.

नामदेव पर आरोप है कि नौकरी दिलाने का झांसा देकर करीब चार महीने पहले उन्होंने युवती को होटल राजदूत के एक कमरे में लगातार दो दिन तक रखा और अश्लील हरकतें की थी, रविवार दोपहर थाने पहुंची युवती की शिकायत पर केस दर्ज किया. नामदेव मैहर उपचुनाव के समय कांग्रेस से भाजपा में शामिल हुए थे, समाज में पकड़ को देखते हुए संगठन की कहने पर उन्हें सिलाई कला मंडल का उपाध्यक्ष बनाते हुए सरकार ने राज्यमंत्री का दर्जा दिया था, उनकी नियुक्ति एक पखवाड़े पहले ही की गई थी.

पुलिस ने बताया कि राजेंद्र नामदेव ने जांच के लिए आवेदन दिया है, उन्होंने खुद पर लगे आरोपों को षड्यंत्र बताया है, पुलिस का कहना है कि जांच के बाद ही उनकी गिर तारी की जाएगी.  बताया जा रहा है कि छेड़छाड़ के आरोप में राजेंद्र की टीटी नगर इलाके से हुई गिर तारी के बाद उन्हे हनुमानगंज थाने लाया गया था, जहां राजेंद्र नामदेव गंभीर रूप से बीमार हो गए थे, उन्हे हैवी डायबिटीज है, पुलिस ने उनका थाने में ही चेक अप कराने के बाद छोड़ दिया था.