रात में हो गई थी मौत, सुबह फिर जिंदा हुए, लोगों में दहशत

भोपाल के पास बैरागढ़ में मंगलवार को अजीबोगरीब घटनाक्रम हुआ। डॉक्टरों ने जिस वृद्ध को मृत घोषित कर दिया था वो वृद्ध फिर जिंदा हो गया। जब घर में इस वृद्ध के अंतिम संस्कार की तैयारियां हो रही थी तभी उनके शरीर में हलचल हुई.. फिलहाल उन्हें दोबारा अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

मामला संतनगर का है। जानकारी के मुताबिक समाजसेवी मोटूमल वासवानी की तबीयत खराब थी। दिल का दौरा पड़ने से उन्हें चिरायु अस्पताल में भर्ती कराया गया। यहां उनकी तबीयत नाजुक ही बनी हुई थी। रात में सांस नहीं चलने पर मोटूमल वासवानी को वेंटिलेटर पर रखा गया था। बाद में अस्पताल ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। परिवार वाले उन्हें लेकर घर आ गए। वे सिंधी पंचायत के संस्थापक थे लिहाजा उनके निधन की खबर मिलते ही लोगों का उनके घर आने का सिलसिला शुरू हो गया।

परिजन 1 बजे निकलने वाली उनकी शवयात्रा की तैयारियां कर रहे थे तभी अचानक उनके शरीर में मूवमेंट हुआ। इस पर तुरंत परिवार वाले उन्हें लेकर फिर अस्पतला पहुंचे। फिलहाल भोपाल अस्पताल में उनका इलाज जारी है।

इधर गम जदा परिवार वाले और रिश्तेदार भी इस घटना के बाद राहत महसूस कर रहे हैं।