रायपुर : मुख्य सचिव ने की रेल परियोजनाओं की प्रगति की समीक्षा : परियोजना कार्यो में तेजी लाने के निर्देश

मुख्य सचिव श्री अजय सिंह की अध्यक्षता में आज यहां मंत्रालय (महानदी भवन) में आयोजित बैठक में रेल लाईन परियोजनाओं की प्रगति की समीक्षा की गयी। मुख्य सचिव ने रेल परियोजनाओं के निर्माण कार्यो में और अधिक तेजी लाने के निर्देश दिए। उन्होंने परियोजना के तहत द्वितीय चरण में सर्वे, भूमि अधिग्रहण, मुआवजा वितरण तथा पॉवर लाईन विस्तार के लिए संबंधित जिला कलेक्टरों को वीडियों कॉन्फ्रेसिंग के जरिये आवश्यक दिशा निर्देश दिए।
बैठक में अधिकारियों ने दल्लीराजहरा-रावघाट रेल लाईन निर्माण की प्रगति की जानकारी दी। उन्होंने बताया कि दल्लीराजहरा से 17 किलोमीटर तक रेल लाईन का निर्माण कार्य पूर्ण हो चुका है तथा इस पर यात्री गाड़ी का परिचालन भी शुरू हो गया है। इसी प्रकार 18 किलोमीटर से 42 किलोमीटर तक 87 प्रतिशत रेल लाईन निर्माण कार्य पूर्ण कर लिया गया है। इस रूट पर भानुप्रतापपुर तक रेल इंजन का ट्रायल 31 दिसम्बर 2017 को किया जा चुका है एवं यात्री गाड़ी का परिचालन शीघ्र प्रारंभ करने के लिए कार्रवाई की जा रही है। इसी प्रकार 43 किलोमीटर से 76 किलोमीटर के मध्य 38 प्रतिशत कार्य कराया जा चुका है। अधिकारियों ने बताया कि 42 किलोमीटर से 60 किलोमीटर के मध्य पॉवर लाईन शिफ्ंिटग का कार्य पूर्ण किया जा चुका है तथा 61 किलोमीटर से 76 किलोमीटर के मध्य पॉवर लाईन शिफ्ंिटग का कार्य शेष है। इसके लिए मुख्य सचिव ने कलेक्टर कांकेर को निर्देशित किया है कि 28 फरवरी को ऊर्जा, वन तथा राजस्व विभाग के अधिकारियों की बैठक लेकर रेल परियोजना की समीक्षा करें और यदि किसी प्रकार की कठिनाईयां है तो उन्हें शीघ्र निराकृत करें।
बैठक में रावघाट से जगदलपुर रेल लाईन परियोजना की समीक्षा के दौरान अधिकारियों द्वारा बताया गया कि जगदलपुर से कोण्डागांव 91.76 किलोमीटर में सर्वे कार्य पूर्ण किया चुका है। कोण्डागांव से रावघाट 91.76 से 140 किलोमीटर में सर्वे कार्य कराया जा रहा है। मुख्य सचिव ने इस कार्य को 15 मार्च तक पूर्ण कराने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि भूमि अधिग्रहण के प्रकरणों में मुआवजा वितरण की कार्रवाई में विलम्ब की स्थिति नहीं हो इस पर विशेष ध्यान रखा जाए। ईस्ट रेल कॉरिडोर परियोजना की प्रगति की समीक्षा के दौरान बताया गया कि खरसिया से धरमजयगढ़ तथा रूट स्पर घरघोड़ा से डोंगामहुआ फेस-एक में शून्य से 74 किलोमीटर तक निर्माण कार्य प्रगति पर है। इसी प्रकार फेस-2 में धरमजयगढ़ से कोरबा रेल लाईन के लिए सर्वे का कार्य की कार्रवाई की जा रही है। बैठक में छत्तीसगढ़ रेल कॉरपोरेशन द्वारा प्रस्तावित कटघोरा-मुंगेली-कवर्धा-डोंगरगढ़ रेल लाईन और खरसिया-बलौदाबाजार-नया रायपुर-दुर्ग रेल लाईन के सर्वे कार्य में तेजी लाने के निर्देश दिए। बैठक में प्रदेश के विभिन्न स्थानों पर निर्माणाधीन रेल्वे अंडर ब्रिज और रेल्वे ओव्हर ब्रिज की भी समीक्षा की गयी। बैठक में वन विभाग के अपर मुख्य सचिव श्री सी.के. खेतान, वाणिज्य एवं उद्योग (रेल परियोजना) श्री सुबोध सिंह, सचिव नगरीय प्रशासन डॉ. रोहित यादव, सचिव आवास एवं पर्यावरण श्री संजय शुक्ला, विशेष सचिव ऊर्जा श्री सिद्वार्थ कोमल परदेशी एवं बिलासपुर रेल्वे मण्डल के जनरल मेनेजर श्री एस.एस.सोईन सहित एसी.सी.एल. भिलाई स्टील प्लांट के अधिकारी उपस्थित थे।