रायपुर : हमर छत्तीसगढ़ योजना : राज्य के विकास के सफर से रू-ब-रू हुए बिलासपुर, रायगढ़ एवं जांजगीर-चांपा के पंच-सरपंच

हमर छत्तीसगढ़ योजना में अध्ययन भ्रमण पर आए बिलासपुर, रायगढ़ एवं जांजगीर-चांपा के पंचायत प्रतिनिधियों ने पिछले डेढ़ दशक में छत्तीसगढ़ में हुए विकास को नजदीक से देखा। अपने दो दिनों के अध्ययन प्रवास के दौरान रायपुर एवं नया रायपुर के अनेक स्थानों का भ्रमण कर उन्होंने अपना अनुभव संसार समृद्ध किया। वे राज्य की उपलब्धियों और शासकीय योजनाओं से भी रू-ब-रू हुए।

बिलासपुर, रायगढ़ और जांजगीर-चांपा जिले के 534 पंच-सरपंच अध्ययन यात्रा पर रायपुर पहुंचे थे। इनमें बिलासपुर के 222, रायगढ़ के 165 एवं जांजगीर-चांपा जिले के 147 पंचायत प्रतिनिधि शामिल हैं। अध्ययन यात्रा में तीनों जिलों के विभिन्न पंचायतों के प्रतिनिधियों ने नया रायपुर स्थित नन्दन वन जंगल सफारी, मंत्रालय (महानदी भवन), शहीद वीर नारायण सिंह अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम, विधानसभा, इंदिरा गांधी कृषि विश्वविद्यालय, इमर्सिव डोम थिएटर तथा छत्तीसगढ़ विज्ञान केंद्र देखा। इस दौरान फोटो प्रदर्शनी और फिल्मों के जरिए वे प्रदेश में पिछले 15 वर्षों में हुए विकास कार्यों से भी परिचित हुए।

पंच-सरपंचों ने अध्ययन प्रवास के पहले दिन पुरखौती मुक्तांगन में देर शाम लाइट एंड साउंड शो का आनन्द लिया, जहां कलाकारों ने ग्राम पंचायत के प्रतिनिधियों के कार्यों और जिम्मेदारियों पर आधारित नाट्य मंचन से उन्हें जागरूक किया। पंचायत प्रतिनिधियों ने दोनों दिन योजना के आवासीय परिसर नया रायपुर के उपरवारा के होटल प्रबंधन संस्थान में प्रशिक्षण और सामूहिक चर्चा में हिस्सा लिया। इसमें उन्हें अनेक योजनाओं की बारिकियों तथा शासकीय कार्यक्रमों के प्रभावी क्रियान्वयन के बारे में बताया गया।