राष्ट्रपति चुनाव के लिए नोटिफिकेशन जारी, सोनिया की आज 17 दलों के साथ बैठक

नई दिल्ली.इलेक्शन कमीशन ने राष्ट्रपति चुनाव के लिए बुधवार को नोटिफिकेशन जारी कर दिया। इसके लिए नॉमिनेशन दाखिल करने की आखिरी तारीख 28 जून है। इसबीच, अपोजिशन ने कैंडिडेट तय करने की कवायद तेज कर दी है। सोनिया गांधी ने बुधवार शाम 4 बजे यूपीए की 17 सहयोगी पार्टियों की मीटिंग बुलाई है। पिछले महीने भी कांग्रेस प्रेसिडेंट ने राष्टपति उम्मीदवार के नाम पर चर्चा के लिए अपोजिशन लीडर्स को लंच पर बुलाया था। इसमें बीजू जनता दल, तेलंगाना राष्ट्रीय समिति, एआईएएमडीके को छोड़कर 14 पार्टियों के नेता शामिल हुए थे। बता दें कि मौजूदा प्रेसिडेंट प्रणब मुखर्जी का टेन्योर 24 जुलाई को खत्म हो रहा है। इसके पहले ही 17 तारीख को जरूरत पड़ने पर वोटिंग होगी। UPA-NDA ने बनाईं कमेटी…
#UPA
– अपोजिशन ने चुनाव पर चर्चा के लिए 10 मेंबर्स की कमेटी बनाई है। इसमें कांग्रेस नेता गुलाम नबी आजाद और मल्लिकार्जुन खड़गे, जेडीयू नेता शरद यादव, राजेडी नेता लालू प्रसाद यादव, सीपीआई नेता सीताराम येचुरी, टीएमसी नेता डेरेक ओब्रायन, समाजवादी पार्टी के नेता रामगोपाल यादव, बसपा नेता सतीश चंद्र मिश्रा, डीएमके नेता आरएस भारती और एनसीपी नेता प्रफुल्ल पटेल शामिल हैं।
– हालांकि, अपोजिशन लगातार इस बात पर जोर दे रहा है कि प्रेसिडेंट इलेक्शन के लिए साझा कैंडिडेट उतारा जाए। कहा जा रहा है कि बंगाल के पूर्व गवर्नर गोपालकृष्ण गांधी यूपीए के कैंडिडेट हो सकते हैं।

#NDA
– कैंडिडेट चुनने के लिए बीजेपी प्रेसिडेंट अमित शाह ने 3 मेंबर्स (राजनाथ सिंह, वेंकैया नायडू और अरुण जेटली) की कमेटी बनाई। यह कमेटी अलायंस के सहयोगी दलों से चर्चा कर कैंडिडेट का नाम तय करेगी।
– शिवसेना ने मोहन भागवत का नाम उछाला था, लेकिन अमित शाह और आरएसएस चीफ ने इससे इनकार कर दिया। लालकृष्ण आडवाणी और मुरली मनोहर जोशी पर बाबरी केस चल रहा है। लेकिन इसके बावजूद वे इलेक्शन में हिस्सा ले सकते हैं।
13% वोट तय करेंगे किसका होगा प्रेसिडेंट?
– बता दें कि 5 राज्यों के असेंबली इलेक्शन के बाद प्रेसिडेंट इलेक्शन के लिए एनडीए की पोजिशन मजबूत है। एनडीए को अपनी पसंद का प्रेसिडेंट बनाने के लिए महज 20 हजार वोटों की जरूरत है। इसके लिए उसे उन गैर-एनडीए और गैर-यूपीए दलों की जरूरत है, जिन्होंने ये तय नहीं किया है कि वे किस तरफ जाएंगे। इनका वोट पर्सेंटेज करीब 13% है। यही वोट तय करेंगे कि अगला प्रेसिडेंट किसकी पसंद का होगा।
ऐसा है राष्ट्रपति चुनाव का शेड्यूल
– चीफ इलेक्शन कमिश्नर नसीम जैदी ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में 8 जून को राष्ट्रपति चुनाव के लिए तारीखों का एलान किया।
– चुनाव आयोग का नोटिफिकेशन:14 जून
– नॉमिनेशन दाखिल करने की आखिरी तारीख:28 जून
– नॉमिनेशन की स्क्रूटनी:29 जून
– नॉमिनेशन वापस लेने की आखिरी तारीख:1 जुलाई
– वोटिंग (जरूरत पड़ने पर):17 जुलाई, सुबह 10 बजे से शाम 5 बजे
– काउंटिंग (जरूरत पड़ने पर): 20 जुलाई, सुबह 11 बजे से
सोनिया ने अपोजिशन को दिया था लंच
– प्रेसिडेंट कैंडिडेट को लेकर आम राय बनाने के लिए 26 मई को सोनिया गांधी ने विपक्षी नेताओं के लिए लंच होस्ट किया था। इसमें लालू प्रसाद यादव और ममता बनर्जी समेत 17 नेता शामिल हुए थे। हालांकि, नीतीश ने इसमें शिरकत नहीं की थी। उनकी पार्टी से शरद यादव और केसी. त्यागी शामिल हुए थे।
– खास बात ये है कि सोनिया ने अपोजिशन लीडर्स को दिए डिनर में दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल को इनविटेशन ही नहीं दिया गया। आम आदमी पार्टी (AAP) ने इस बारे में कोई रिएक्शन भी नहीं दिया। हालांकि आप के 21 विधायक राष्ट्रपति चुनाव में वोट डाल सकते हैं।
सोनिया के लंच में ये नेता हुए थे शामिल
1. कांग्रेस: सोनिया गांधी, राहुल गांधी, मनमोहन सिंह
2. एनसीपी- शरद पवार
3. सीपीआई(एम) – सीताराम येचुरी
4. सीपीआई- डी राजा
5 आरजेडी- लालू प्रसाद यादव
6. टीएमसी- ममता बनर्जी
7. बीएसपी- मायावती
8. एसपी – अखिलेश यादव
8. डीएमके- कनिमोझी
9. जेडीयू- शरद यादव। नीतीश कुमार नहीं पहुंचे।
10. एआईयूडीएफ- बदरुद्दीन अजमल
11. जेडीएल- एचडी देवगौड़ा
ये पार्टियां भी शामिल हुईं
12. इंडियन यूनियन ऑफ मुस्लिम लीग
13. झारखंड मुक्ति मोर्चा
14. केरल कांग्रेस
15. नेशनल कॉन्फ्रेंस