राष्ट्रपति चुनाव: हार के बावजूद मीरा कुमार ने तोड़ा 50 साल का रिकॉर्ड

राष्ट्रपति के चुनाव में एनडीए उम्मीदवार रामनाथ कोविंद बड़ी जीत हासिल की, लेकिन इस मैदान में एक रिकॉर्ड विपक्ष के खाते में भी गया है। विपक्ष की उम्मीदवार मीरा कुमार ने पिछले 50 सालों का रिकॉर्ड तोड़ा है। दरअसल, वे वो उम्मीदवार हैं, जिन्होंने अब तक के हारने वाले उम्मीदवारों में सबसे ज्यादा वोट पाए हैं।
मीरा कुमार ने 10.69 लाख में से 3.67 लाख वोट पाए, जबकि इससे पहले सबसे ज्यादा वोट 3.63 लाख पूर्व चीफ जस्टिस कोका सुब्बाराव ने हासिल किए थे।

जस्टिस राव को पूर्व राष्ट्रपति जाकिर हुसैन ने मात दी थी, लेकिन उन्होंने हार के बावजूद रिकॉर्ड बना डाला। विपक्ष ने कोविंद की जीत के बाद बीजेपी कों उसके दाव पर घेरने की कोशिश की। बीजेपी ने कहा था कि कोविंद करीब 70 फीसदी वोट हासिल करेंगे, जबिक विपक्ष के मुताबिक उन्हें 66 फीसदी वोट ही मिले।

पूर्व लोकसभा अध्यक्ष मीरा कुमार ने नए राष्ट्रपति कोविंद को जीत की बधाई दी और कहा कि ये लड़ाई आगे भी जारी रहेगी। वोटिंग और वोटों की गिनती के दौरान मीरा कुमार ने कहा कि उन्होंने ये लड़ाई विचारधारा पर लड़ी है।