रिश्वत लेने के आरोपी थानेदार को सात साल की सजा

जयपुर। राजस्थान में जोधपुर की भ्रष्टाचार निरोधी ब्यूरो कोर्ट ने पांच हजार रुपए की रिश्वत लेते पकड़े गए एक थानेदार को सात वर्ष के कठोर कारावास और 25 हजार रुपए जुर्माने की सजा सुनाई है।

मामले के अनुसार जोधपुर के खांडा फलसा थाने में ओमप्रकाश माचवाल पुलिस उपनिरीक्षक पद पर कार्यरत था।

उसने पाली जिले के सादडी निवासी मोहम्मद निसार को चोरी के मुकदमे में झूठा फंसाने की धमकी दी थी और 25 हजार रुपए रिश्वत मांगी थी। बाद में पांच हजार रुपए पर मामला सैट हुआ तो रिश्वत लेेने के दौरान ही एसीबी ने उसे पकड लिया।

इस मामले में फैसला सुनाते हुए जज अजय कुमार शर्मा ने कहा कि भ्रष्ट लोगेां को सख्त सजा देने की जरूरत है, उनके प्रति नरमी नहीं बरती जा सकती। इसी को देखते हुए थानेदार को सात वर्ष की सजा और 25 हजार रुपए जुर्माने की सजा दी गई है।