रेप पीड़िता के साथ खिंचवाई सेल्फी तो मचा बवाल !

जयपुर : सेल्फी लेने का चलन इन दिनों कई क्षेत्रों में है। ऐसे में राजस्थान राज्य महिला आयोग में भी इस तरह का चलन देखने को मिला। दरअसल राजस्थान राज्य महिला आयोग की सदस्य ने दुष्कर्म पीड़िता के साथ सेल्फी खींच ली। अब इस मामले में सवाल किए जा रहे हैं। इस सदस्य से आयोग की अध्यक्ष ने लिखित में स्पष्टीकरण मांगा है। आयोग की सदस्य सौम्या गुर्जर द्वारा इस पीड़िता के साथ ली गई सेल्फी में आयोग की अध्यक्ष सुमन शर्मा भी एक ओर दिखाई दे रही हैं।

दरअसल महिला पुलिस थाने में राज्य महिला आयोग की अध्यक्ष सुमन शर्मा और आयोग की सदस्य सौम्या गुर्जर दुष्कर्म पीड़िता से मिलने थीं। इस दौरान सेल्फी ली गई। इस सेल्फी में आयोग की सदस्य गुर्जर को सेल्फी लेते हुए देखा गया। अब ये सेल्फीज़ के फोटो सोश्यल मीडिया पर वायरल हो गए। इस मामले में आयोग अध्यक्ष सुमन शर्मा ने कहा कि पीड़िता से चर्चा की गई थी इस दौरान आयोग की सदस्य सेल्फी को क्लिक कर रही थीं। सुमन ने कहा कि उन्हें इस बारे में जानकारी नहीं है।

उन्होंने कहा कि वे इस तरह के कार्यों का समर्थन नहीं करती हूं। उन्होंने आयोग की सदस्य से स्पष्टीकरण भी मांगा। उल्लेखनीय है कि पीड़िता ने आरोप लगाया था कि उससे दहेज के लिए ससुराल वालों द्वारा 51 हजार रूपए की मांग की जा रही थी। उसने अपने पति और जेठी पर दुष्कर्म, अभद्रभाषा और सिर के ही साथ हाथ में अपशब्द गुदवाने का आरोप भी लगाया है।

राजस्थान प्रदेश कांग्रेस कमेटी की उपाध्यक्ष डाॅ. अर्चना शर्मा ने राज्य महिला आयोग की अध्यक्ष सुमन शर्मा और सदस्य सौम्या गुर्जर द्वारा आमेर दुष्कर्म पीड़िता के साथ सेल्फी खींची जाने की कड़े शब्दों में निन्दा करते हुए महिा आयोग की कार्यप्रणाली पर प्रश्न चिन्ह लगा दिया गया है। अब सेल्फी प्रकरण की जमकर निंदा हो रही है।

Leave a Reply