लकी-ड्रॉ का झांसा देकर लाखों रुपए ठगने वाले पिता-पुत्र पर केस दर्ज

चिटफंड फर्म चलाने वाले पिता-पुत्र ने रुपए दोगुना करने का झांसा देकर लोगों से लाखों रुपए ठग लिए। आरोपियों ने लकी-ड्रॉ खुलने का प्रलोभन दिया और रुपए उगाह लिए। लोग रुपए लेने पहुंचे तो आरोपी फरार हो गए। उनके घर और ऑफिस में भी ताले लगे हुए थे। जांच कर पुलिस ने पिता-पुत्र के खिलाफ हेराफेरी और धेखाधड़ी का प्रकरण दर्ज कर लिया है।

मल्हारगंज पुलिस के मुताबिक भागीरथपुरा निवासी सत्यनारायण कश्यप की रिपोर्ट पर छीपा बाखल निवासी प्रदीप राठौर और उसके बेटे रवि राठौर के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है।

फरियादी ने पुलिस को बताया वह टेलरिंग का काम करता है। वर्ष 2011 में बड़ा गणपति निवासी एक दोस्त ने बताया प्रदीप और रवि श्री दामोदर मित्र मंडल के नाम से चिटफंड कंपनी चलाते हैं। 36 माह के लिए हर महीने 400 रुपए जमा करने पर हर महीने लकी-ड्रॉ खुलता है, जिसमें जमाकर्ता को उपहार मिलना भी निश्चित है।

जिसको इनाम नहीं खुलता है उसको 14400 के बदले 28800 रुपए मिलते हैं। फरियादी आरोपियों के झांसे में आ गया और सदस्यता लेकर सत्यनारायण व पत्नी शारदास, भानजी कीर्ति व रिश्तेदार शांति के नाम से रुपए जमा करवाने शुरू कर दिए।

आरोपियों ने इसी तरह करीब 500 लोगों से रुपए लिए और फरार हो गए। फरियादी कुछ दिनों पूर्व जनसुनवाई में डीआईजी के पास पहुंचा और दोनों आरोपियों के खिलाफ शिकायत दर्ज करवाई। पुलिस ने मामले की जांच की और शुक्रवार रात दोनों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया।