लाइबे्ररी ठप, वाईफाई से कैसे हो पढ़ाई, नए अध्यक्षों के लिए चुनौती

कॉलेज की समस्याओं से निजात दिलाने की जिम्मेदारी अब मनोनयन स्टूडेंट पर होगी। कैंटीन, वाईफाई, पार्किग से लेकर रेगुलर क्लास जैसी समस्या पर खास फोकस होंगे। कैंपस में गर्ल्स स्टूडेंट को सुरक्षा के साथ बेहतर शैक्षणिक माहौल मिलेगा यानी वर्षों से झेल रहे क्लास की उमस से छुटकारे के साथ कॉलेज में लंबित पड़े मॉडल लैब की योजना को नई दिशा मिलेगी। मनोनीत स्टूडेंट बगैर किसी राजनीति के स्टूडेंट की परेशानी समझेंगे नहीं, बल्कि उसका निराकरण करेंगे। वहीं मनोनीत हुए कॉलेज के स्टूडेंट से बात की गई, जिन्होंने प्रमुख मुद्दे पर अपनी राय रखी। उन्हें पूरा भरोसा है कि मनोनीत सदस्य उनकी दिक्कतों को सुनेंगे। कॉलेज में शुरू नए पाठ्यक्रम सही तरह से संचालित होंगे।

पढ़ाई का माहौल

कॉलेज में पहली बार पढ़ाई करने पहुंचे कई स्टूडेंट चुनाव नहीं होने के मुद्दे पर खुश भी हैं। उनका कहना है कि जरूर कुछ समस्याओं को लेकर स्टूडेंट को विभाग के चक्कर लगाने पड़ेंगे, लेकिन छात्र चुनाव के दौरान पढ़ाई अब तो प्रभावित नहीं होगा, जो स्टूडेंट के भविष्य से जुड़ा है। अब कैंपस में हो-हल्ला जैसा माहौल देखने को नहीं मिलता है।

1-समस्या से अनजान

पढ़ाई के अलावा इस तरह की राजनीति से दूरी रही है। शुरू से पढ़ाई को ही फोकस किया गया है। अब नई व्यवस्था में कॉलेज स्टूडेंट की समस्या को दूर करने की जिम्मेदारी मिली है। बेहतर करने की कोशिश है फिलहाल स्टूडेंट की क्या समस्या है, इसकी अभी जानकारी नहीं है।

-कृतिका साहू, अध्यक्ष, डिग्री गर्ल्स कॉलेज

0 प्रमुख मुद्दे

-गेट पर सुरक्षा व्यवस्था नहीं

-कैंपस में पार्किंग जगह कम

-वाई-फाई नेटवर्क ठीक नहीं

2-मॉडल लैब तैयार होगा

रेगुलर क्लास को फोकस करते हुए कैंटीन में साफ-सफाई पर ध्यान दिया जाएगा। साथ ही गर्ल्स स्टूडेंट को बेहतर माहौल के साथ कैंपस में सुरक्षा पर ध्यान देंगे।

-रजत वरू, अध्यक्ष, छग कॉलेज

प्रमुख मुद्दे

-रेगुलर क्लास की व्यवस्था के साथ कैंटीन में साफ-सफाई

-वाई-फाई के नेटवर्क में दिक्कत

– कैंपस में पार्किंग सिस्टम ठीक नहीं

-लैब सामग्री का अभाव

3-स्टूडेंट से लेंगे जानकारी

रेगूलर स्टूडेंट नहीं होंने की वजह से कॉलेज में क्या प्रमुख समस्या इसकी जानकारी तो नहीं है। अब मनोनयन हुआ है तो शपथ के बाद साथियों से चर्चा कर उनकी समस्याओं को सुधारा जाएगा।

-चांदनी त्रिलोकवानी, अध्यक्ष , महंत कॉलेज

0प्रमुख मुद्दे

-कैंटीन होने के बावजूद स्टूडेंट नाश्ता करने जाते हैं बाहर।

-पार्किंग स्पेस की कमी।

4-कॉलेज को मिलेगा नया रंग

कैंटीन की वजह से क्लास में उमस होने की समस्या है। साथ ही कॉलेज की बिल्िडग को एक नया कलर देने का प्रयास किया जाएगा। मौजूदा कलर से बिल्िडग बहुत पुरानी दिखती है। इसके साथ कॉलेज में शिकायत व सुझाव पेटी रखी जाएगी। इससे स्टूडेंट अपनी बात बगैर किसी के सहयोग से हम लोगों तक पहुंचा सकेंगे।

-अतुल दुबे, उपाध्यक्ष, प्रगति कॉलेज

0 प्रमुख मुद्दा

-कैंपस का अभाव

-पार्किंग स्पेस कम

16 पंकज 20 समय 8-15

सं. आरकेडी