लालू यादव के स्वास्थ्य मंत्री बेटे ने पिता की सेवा के लिए घर पर तैनात किए सरकारी डॉक्टर

बिहार की राजधानी पटना से पूर्व मुख्यमंत्री लालू प्रसाद यादव को लेकर एक बड़ा मामला सामने आया है। खबर है कि सरकारी अस्पताल आईजीआईएमएस के चीफ डॉक्टर मरीजों को छोड़ लालू का इलाज करने चल दिए। लालू के आवास 10 सर्कूलर रोड पर तीन डॉक्टर्स और दो पुरुष नर्स की तैनाती की गई। ये तैनाती 31 मई से 8 जून तक के लिए की गई।
अस्पताल में जहां एक तरफ मरीज बदहवास और बेहाल अपना इलाज करवाने के लिए घूम रहे हैं वहीं, अस्पताल के मुख्य डॉक्टर बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री लालू प्रसाद यादव की सेवा करने में लगे हुए हैं। यहां मरीज डॉक्टरों का इंतजार कर रहे हैं लेकिन उन्हें नहीं पता जिन डॉक्टरों का वे इंतजार कर रहे हैं वे लालू की सेवा में दिन रात लगे हुए हैं।
बता दें कि लालू की सेवा के लिए तीन मुख्य डॉक्टर और दो पुरुष नर्सों को उनकी देखभाल के लिए उनके घर में तैनात किया हुआ है। जिनमें लालू के लिए क्रिटिकल केयर और न्यरों ओटी के लिए नर्सों को भी लगाया गया है। वहीं, दूसरी तरफ अस्पताल में मरीज इलाज के लिए घंटों-घंटों डॉक्टर्स का इंतजार कर रहे हैं। वहीं, लालू के घर डॉक्टरों की तैनाती को लेकर बिहार के डिप्टी सीेएम सुशील मोदी का बयान आया है कि अगर लालू ज्यादा बीमार थे तो अस्पताल में भर्ती हो जाते, डॉक्टरों को घर क्यों बुलाया।