वायरल सेक्स वीडियो ने तबाह की उसकी ज़िंदगी

ये कहानी है टिज़ियाना कैंटोन की, जिन्होंने सेक्स वीडियो वायरल होने के बाद ख़ुदकुशी जैसा क़दम उठा लिया.

अप्रैल 2015 में नेपल्स के उपनगरीय मुग्नानो इलाक़े की रहनेवाली 31 साल की टिज़ियाना ने व्हाट्सऐप पर पांच लोगों को सेक्स वीडियो भेजा.

जिन लोगों ने ये वीडियो व्हाट्सऐप पर रिसीव किया उनमें उनके ब्वॉय फ़्रेंड सर्गियो डी पालो भी थे, जिनके साथ उनके रिश्ते स्थिर नहीं थे.

उन वीडियोज़ में टिज़ियाना कई अज्ञात लोगों के साथ सेक्स करती नज़र आ रही हैं.

15 साल तक टिज़ियाना की दोस्त रही टेरीज़ा पेट्रोसिनो याद करती हैं, “वो बेहद ख़ूबसूरत थीं, लेकिन सहज ही भरोसा कर लेनेवाली भी थीं. वो ग़लत समय में ग़लत लोगों के साथ थी.”

उनके वीडियोज़ जल्द ही कई एडल्ट वेबसाइट्स पर अपलोड कर दिए गए.
सेक्स वीडियो ने भले ही कुछ न बिगाड़ा हो, लेकिन उनके कहे एक वाक्य ने उन्हें तबाह कर दिया.

वीडियो में एक जगह वो पूछती हैं, “तुम वीडियो बना रहे हो, ब्रावो!”

इन शब्दों से यही संदेश गया कि वो एक खुले मिज़ाज की लड़की हैं जिन्हें सेक्स के दौरान शूट किया जाना पसंद है.

वीडियो देखने वालों ने सहज ही ये संदेश ले लिया कि अगर वो फ़िल्म किए जाने पर इतनी ख़ुश हैं तो देखे जाने पर भी एतराज़ नहीं करेंगी.

लेकिन इटली के लोगों ने केवल वीडियो देखा नहीं. उनके कमेंट्स के साथ उनकी तस्वीर टी-शर्ट और वेबसाइट्स पर नज़र आने लगी.

संदेश ये गया कि वो ये सब करके बेहद खुश थीं

सोशल कॉमेंटेटर सेल्वाजिया लुकैरेल्ली कहती हैं, “लोगों ने ये ग़लत मैसेज ले लिया कि वो एक ऐसे खुले विचारों वाली लड़की हैं जिन्हें इस तरह वायरल होने में कोई एतराज़ नहीं. आप एक वीडियो शूट कर सकते हैं. कुछ लोगों के साथ शेयर भी कर सकते हैं. लेकिन साथ ही उसमें ये बात भी शामिल है कि आप उसे सार्वजनिक नहीं करेंगे.”

ये सब टिज़ियाना के लिए बेहद ख़ौफ़नाक था.

लेकिन उन्होंने इसका सामना करने का फ़ैसला किया. लेकिन कोई ऐसा तरीक़ा नहीं था जिससे वो वायरल हो चुके वीडियोज़ को हटवा सकतीं.

वो मामले को अदालत में ले गईं. कोर्ट को बताया कि बिना उनकी इजाज़त के वीडियोज़ को सार्वजनिक साइट्स पर अपलोड किया गया.

लेकिन ये सब होते-होते उनका जीवन सामान्य नहीं रह गया था.

उनकी मां मारिया टेरेसा गिग्लियो बताती हैं कि वो बाहर निकलने से बचने लगीं.

“उन्हें समझ में आ गया था कि ये मामला कभी भी सामान्य नहीं हो सकेगा. उनके होनेवाले पति, उनके बच्चे कभी न कभी इन सेक्स वीडियोज़ के बारे में जान जाते क्योंकि ये कभी हटने वाले नहीं थे.”

कई हफ्तों की मानसिक परेशानी झेलने के बाद मां मारिया ने अपनी बेटी के बारे में पत्रकारों को बताने की हिम्मत जुटाई.

उन्होंने बीबीसी को बताया, “मेरी बेटी अच्छी लड़की थी लेकिन उसे प्रभावित किया जा सकता था. जन्म के समय से ही उसे पिता का साथ नहीं मिला. वो उनसे कभी नहीं मिली. इसका असर उसकी पूरी ज़िंदगी पर पड़ा.”

टिज़ियाना अपनी मां के साथ रहती थीं. वो इटैलियन गायकों को सुनती थीं, उपन्यास पढ़ती थीं और पियानो बजाती थीं. लेकिन सेक्स वीडियोज़ के ऑनलाइन शेयर होने के बाद उनका व्यवहार पूरी तरह बदल गया. वो ख़ुद में ही रहने लगीं.

उनकी मां बताती हैं, “उसकी ज़िंदगी तबाह हो गई. लोग उसका मज़ाक बनाने लगे. उसे भद्दे नामों से पुकारा जाने लगा.”

सितंबर में नेपल्स की एक अदालत ने आदेश दिया कि उन वायरल वीडियोज़ को वेबसाइट्स से और सर्च इंजनों से हटाया जाए. लेकिन साथ ही कोर्ट ने उन्हें क़ानूनी खर्च के लिए क़रीब 22 हज़ार डॉलर भुगतान करने का आदेश भी दिया.

ये सब काफ़ी हो चुका था. 13 सितंबर 2016 को मारिया टेरेसा गिग्लियो स्थानीय टाउन हॉल में काम पर गईं. बेटी घर पर थी.

उन्हें एक फ़ोन आया. “मेरी रिश्तेदार ने फ़ोन किया और घर आने को कहा. जब मैं वहां पहुंची तो पुलिस और एंबुलेस को देखा. मैं समझ गई. उसे बचाने की कोशिश की गई. मेरे पड़ोसियों ने मुझे कार से बाहर नहीं निकलने दिया. मैं लगभग बेहोश हो गई थी. वे मुझे घर के भीतर नहीं जाने देना चाहते थे. मैं उसे आखिरी बार देख भी नहीं सकी. जिस दिन उसकी मौत हुई, मेरी ज़िंदगी भी ख़त्म हो गई.”

मां का संघर्ष
टिज़ियाना की मौत ने लोगों की दिलचस्पी उनके वीडियोज़ में और बढ़ा दी.

उनकी मां ने भी वो वीडियोज़ देखे. “मैं सच को समझने के लिए वो सब देखना चाहती थी. वो मेरी टिज़ियाना नहीं थी.”

उन्हें यही लगता है कि उनकी बेटी को नशीली दवा दी गई थी. उन्हें लगता है कि ये सब एक आपराधिक साज़िश थी.

वो चाहती हैं कि उनकी बेटी के पूर्व ब्वॉय फ़्रेंड डी पालो बताएं कि वीडियोज़ के शेयर होने में उनकी क्या भूमिका थी.

“उन्होंने मेरी बेटी की ज़िंदगी बचाने में मेरी मदद नहीं की. लेकिन शायद वो सच जानने में मेरी मदद कर सकें.”

नवंबर 2016 में डी पालो से 10 घंटे तक पूछताछ हुई. अभियोजक जानना चाहते थे कि क्या टिज़ियाना को आत्महत्या के लिए उकसाने में किसी की भूमिका थी?

टिज़ियाना कैंटोन की आत्महत्या ने इटली में पोर्नोग्राफ़ी और निजता को लेकर होनेवाली चर्चाओं का तेवर बदल दिया. ये उन लोगों के लिए भी एक सीख थी जो अंतरंग क्षणों का वीडियो ऑनलाइन शेयर करते हैं.

टिज़ियाना के वीडियो अब मुख्य सर्च इंजनों पर नहीं मिलते, लेकिन उनका वजूद अब भी है.

उनकी मां मारिया चाहती हैं कि इटली और यूरोपीय संघ के बाकी देश ऐसा तरीका विकसित करें जिससे निजी अपलोड्स को इंटरनेट से जल्दी हटाया जा सके.

वो कहती हैं,”मैं उम्मीद करती हूं टिज़ियाना कैंटोन का नाम माखौल की तरह नहीं बल्कि दूसरी महिलाओं की ज़िंदगी बचानेवाली शख्सियत के रूप में जाना जाए.”

Leave a Reply