विश्व जूनियर एथलेटिक्स : ट्रैक इवेंट में स्वर्ण जीतने वाली पहली भारतीय बनीं हिमा दास

टांपेरे (फिनलैंड)। हिमा दास ने गुरुवार को आईएएएफ विश्व अंडर-20 एथलेटिक्स चैंपियनशिप में स्वर्ण पदक जीतकर इतिहास रच दिया। वह इस चैंपियनशिप में स्वर्ण जीतने वाली पहली भारतीय महिला एथलीट बनी। वह चैंपियनशिप के तीसरे दिन महिलाओं की 400 मीटर फाइनल रेस में शीर्ष पर रहीं।

18 वर्षीय दास चैंपियनशिप से पहले इस स्पर्धा की पसंदीदा एथलीट थीं और उन्होंने इसे सही साबित करते हुए 51.46 सेकेंड का समय निकाल सोना जीत लिया। रोमानिया की आंद्रे मिकलोस ने 52.07 सेकेंड का अपना सर्वश्रेष्ठ समय निकालकर रजत पदक पर कब्जा जमाया। वहीं, अमेरिका की टेलर मैंसोन 52.28 सेकेंड के समय के साथ कांस्य पदक जीत पाई।

दास से पहले स्टार भाला फेंक नीरज चोपड़ा ने पोलैंड में हुए 2016 में पिछले सत्र में विश्व रिकॉर्ड के साथ स्वर्ण पदक अपने नाम किया था। इसके साथ ही दास इस चैंपियनशिप के इतिहास में पदक जीतने वाली पहली भारतीय ट्रैक एथलीट बनीं। उनसे पहले इस चैंपियनशिप में भारत की ओर से सीमा पूनिया ने 2002 में डिस्कस थ्रो में कांस्य पदक जीता था, जबकि नवजीत कौर ढिल्लो 2014 में डिस्कस थ्रो में ही कांसा हासिल करने में सफल हुईं थीं।

इससे पहले दास अप्रैल में हुए गोल्ड कोस्ट कॉमनवेल्थ गेम्स में 400 मीटर फाइनल में 51.32 सेकेंड का समय निकालकर छठे स्थान पर रहीं थीं। अन्य भारतीयों में जिस्ना मैथ्यू 54.32 सेकेंड का समय लेकर हीट 5 की विजेता रहीं थीं, लेकिन सेमीफाइनल में वह 53.86 सेकेंड का समय लेकर पांचवें स्थान पर रहकर फाइनल की दौड़ से बाहर हो गईं।