शिक्षा मंत्री बोले, बच्चों की संख्या के आधार पर तय होती है शिक्षकों की संख्या

रायपुर। स्कूल शिक्षा मंत्री केदार कश्यप ने बताया कि स्कूलों में प्रधान पाठक, हेडमास्टर व शिक्षकों की संख्या बच्चों की संख्या के आधार पर तय होती है। गुरुवार को विधानसभा में प्रश्नकाल के दौरान विधायक अशोक साहू के एक प्रश्न के जवाब में कश्यप ने यह जानकारी दी।

उन्होंने बताया कि कवर्धा विधानसभा क्षेत्र के प्राथमिक स्कूलों में स्वीकृत 505 पदों में 385 रिक्त हैं। पूर्व माध्यमिक स्कूलों में 1058 पद स्वीकृत हैं, इनमें से 198 रिक्त हैं। हाई स्कूल और हायर सेकेंडरी स्कूलों में क्रमशः 266 व 529 पद स्वीकृत हैं। इनमें से 62 व 81 पद रिक्त हैं।

उन्होंने कहा कि शिक्षाकर्मियों के संविलियन हो गया है अब स्कूलों के प्रशासनिक कामों में आसानी होगी। साहू ने स्कूलों में और शिक्षक बढ़ाने की मांग की। इस पर मंत्री ने कहा कि आवश्यक हुआ तो करेंगे।

बैंक खाता नंबर गलत, इसलिए नहीं मिली छात्रवृत्ति

सारंगढ़ विधानसभा क्षेत्र के 2015-16 से 2016-17 तक करीब 20 हजार स्कूली बच्चों का छात्रवृत्ति भुगतान नहीं हो पाया है। केराबाई मनहर ने गुरुवार को विधानसभा में यह सवाल उठाया। इस पर स्कूल शिक्षा मंत्री केदार कश्यप ने बताया कि इन बच्चों का बैंक खाता नंबर गलत आ गया था, इस वजह से उन्हें छात्रवृत्ति नहीं मिल पाई है। सही खाता नंबर आते ही राशि जमा करा दी जाएगी।