शिमला से भी ज़्यादा ठंड यूपी-बिहार-हरियाणा में..

अब तक की बड़ी खबर ,प्राप्त जानकारी के अनुसार पुरे उत्तर भारत में सहित लहार का प्रकोप जारी हे ,शिमला में पारा शुन्य से निचे चल रहा हे ,सड़क पर बर्फ की मोटी मोटी बर्फ की परत जमने लगी हे ,ठण्ड का प्रभाव इतना गहरा हे की ढूंढ के कारण आस पास की वस्तुए भी मुश्किल से दिखाई देती हे ,चलिए बताते हे आपको पूरी खबर,दिल्ली में आज फिर न्यूनतम पारा 4 डिग्री है लेकिन उत्तर प्रदेश, बिहार और हरियाणा के शहर शिमला और मसूरी से भी ज़्यादा सर्द हैं। पहाड़ों से गिरता झरना जम गया और सड़कें बर्फ की बन गई हैं।हिमाचल प्रदेश का केलॉन्ग में माइनस 10 डिग्री की मार से सब कुछ फ्रीज़ होने लगा है। पानी बर्फ बन रहा है औऱ जिंदगी जमती जा रही है। हिमाचल जैसा हाहाकार कश्मीर में भी है। श्रीनगर की डल झील तो जम ही चुकी है, आम तौर पर बहने वाले नदी-नाले भी बर्फ बन चुके हैं।

वही समूचे कश्मीर घाटी में भरी हिमपात हो रहा हे |हलाकि इससे पर्यटन बढ़ रहा हे ,लोग इस बर्फ़बारी का जम कर मजा ले रहे है|कश्मीर में ताजा बर्फबारी ने गलन में इजाफा कर दिया है। श्रीनगर में न्यूनतम तापमान माइनस 6.2 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया। पहलगाम व गुलमर्ग में न्यूनतम तापमान माइनस 7.6 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया।लेह क्षेत्र में न्यूनतम तापमान माइनस 17.2, जबकि करगिल में न्यूनतम तापमान 13.2 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया। श्रीनगर में तापमान जमाव बिंदु से नीचे चले जाने के कारण डल झील समेत तमाम जलस्त्रोत जम रहे हैं।
कोहरे का सबसे ज्यादा असर दिल्ली में दिख रहा है |ठंड का सबसे प्रचंड प्रहार हुआ है उत्तर प्रदेश पर जहां सर्दी अब तक 80 से ज़्यादा लोगों की जान ले चुकी है। शहर-शहर ठंड से कोहराम मचा हुआ है। शीतलहर ने लोगों को कांपने पर मजबूर कर दिया है। ऐसे में अलाव के सहारे दिन और रात काटना लोगों की मजबूरी बन चुका है या फिर लोग घरों में क़ैद हैं। हरियाणा में भी सर्दी से हाहाकार है और उसके कुछ शहर मसूरी से ज़्यादा कांप रहे हैं क्योंकि मसूरी में पारा 4 डिग्री के क़रीब है तो अंबाला में पारा 2.3, हिसार में 2.5, करनाल में 2.6 है |