शिवाजी की मूर्ति की ऊंचाई घटाने पर महाराष्ट्र विधानसभा में हंगामा

मुंबई। अरब सागर में लगने वाली छत्रपति शिवाजी महाराज की मूर्ति की ऊंचाई कम करने के मुद्दे पर बुधवार को महाराष्ट्र विधानसभा में जमकर हंगामा हुआ।

मूर्ति की ऊंचाई कम करने की बात एक आरटीआइ अर्जी के जवाब में सामने आई है। बता दें कि मुंबई में मरीन ड्राइव के समुद्री किनारे से 2.5 किलोमीटर अंदर 3600 करोड़ रुपये की लागत से बनने वाले इस स्मारक में शिवाजी की मूर्ति

की ऊंचाई पहले 83.2 मीटर रखी गई थी जिसे अब 75.7 मीटर कर दिया गया है। हालांकि शिवाजी के हाथ की तलवार की ऊंचाई बढ़ा दी गई है।

नागपुर में चल रहे महाराष्ट्र विधानमंडल के मानसून सत्र में बुधवार को यह मुद्दा पूर्व मुख्यमंत्री एवं कांग्रेस नेता पृथ्वीराज चह्वाण ने उठाया।

उन्होंने कहा कि सरकार स्मारक पर आने वाले खर्च को कम करने के लिए बार-बार इसकी ऊंचाई कम करने का प्रयास कर रही है। उनके इस बयान का एक भाजपा विधायक ने विरोध किया।

इस पर न सिर्फ कांग्रेस-राकांपा, बल्कि शिवसेना ने भी विरोध करना शुरू कर दिया। इस पर मोर्चा संभालते हुए देवेंद्र फड़नवीस ने कांग्रेस-राकांपा को आड़े हाथ लिया।

जब मुख्यमंत्री के बयान के बाद भी हंगामा नहीं रुका तो पृथ्वीराज चव्हाण को टोकने वाले भाजपा विधायक ने अपना स्पष्टीकरण दिया तब जाकर हंगामा शांत हुआ।