संघ की तर्ज पर तैयार विस्तारक संभालेंगे विस.चुनाव की कमान

आरएसएस के स्वयंसेवकों की तर्ज पर भाजपा राजस्थान में 200 विस्तारक तैयार कर रही है। इन विस्तारकों को स्वयंसेवकों की तरह ही प्रशिक्षित किया जा रहा है। प्रशिक्षण के बाद इन्हे प्रदेश के सभी 200 विधानसभा क्षेत्रों में नियुक्त किया जाएगा।

ये विस्तारक जून के अंतिम सप्ताह में विधानसभा क्षेत्रों में पहुंच जाएंगे और इस साल के अंत में विधानसभा चुनाव सम्पन्न होने तक वहीं रहेंगे। विस्तारक पोलिंग बूथ मैनेजमेंट से लेकर भाजपा प्रत्याशियों के पक्ष में अधिक से अधिक मतदान कराने की रणनीति के तहत काम करेंगे। 200 विस्तारकों को आईटी,सोशल मीडिया,केन्द्र एवं राज्य सरकार की प्रमुख योजनाओं,कांग्रेस सहित अन्य विपक्षी दलों की विफलताओं को लेकर इन दिनों प्रदेश में पर्वतीय पर्यटन स्थल माउंट आबू में प्रशिक्षण दिया जा रहा है।

प्रशिक्षण शिविर में भाजपा के वरिष्ठ नेताओं के साथ ही पिछले लोकसभा चुनाव में राष्ट्रीय स्तर पर पार्टी का चुनाव प्रबंधन देखने वाले प्रोफेशनल्स भी चुनाव जीतने के गुर विस्तारकों सिखा रहे है। विस्तारकों को यह समझाया जा रहा है कि अपने-अपने विधानसभा क्षेत्रों में पहुंचकर वे पहले तो “बूथ जीतो,चुनाव जीतो “अभियान के तहत तैयार की गई कार्यकर्ताओं की टीम के साथ संवाद करें और फिर मतदाताओं के बीच जाकर भाजपा के पक्ष में अधिक से अधिक मतदान कराने को लेकर प्रेरित करें।

विस्तारकों से कहा गया है कि वे आगामी तीन माह में अपने-अपने विधानसभा क्षेत्रों में आवश्यक विकास कार्यों की सूची तैयार कर जिलों के प्रभारी मंत्रियों और पार्टी के प्रदेश संगठन महामंत्री को सौंपे,जिससे चुनाव आचार संहिता लागू होने से पहले काम करवाए जा सके। भाजपा के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष अशोक परनामी का कहना है कि विस्तारक विधानसभा चुनाव तक रहेंगे और फिर लोकसभा चुनाव में भी इन्हे ही जिम्मेदारी सौंपी जाएगी ।