सलमान के जातिवाद से जुड़े बयान पर भड़के लोग

सलमान खान की फिल्म ‘टाइगर जिंदा है’ के रिलीज होते ही बवाल मच गया है। एक इंटरव्यू में सलमान ने जातिसूचक शब्द का इस्तेमाल किया था। इसके बाद से वाल्मिकी समाज ने उनके खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। जगह-जगह फिल्म के पोस्टर और पुतले फूंके जा रहे हैं।

ये विरोध अजमेर से शुरू हुआ था जो अब जयपुर और कोटा पहुंच गया है। शुक्रवार को फिल्म रिलीज होते ही सुबह के शो को कैंसिल करवाने की कोशिश की गई। इस मामले में पुलिस ने कई लोगों को कस्टडी में भी लिया है।

प्रदर्शनकारियों ने सिनेमा हॉल के मालिकों को धमकी दी कि अगर फिल्म की रिलीज नहीं रोकी तो इसकी उन्हें बड़ी कीमत चुकानी पड़ेगी। बता दें कि सलमान खान एक टीवी शो पर डांस के बारे में चर्चा करते नजर आए थे, जिसमें उन्होंने किसी स्टेप के बारे में चर्चा करते हुए आपत्तिजनक टिप्पणी की।

वाल्मिकी समाज की ओर से कहा गया कि देश की जनता फिल्में देखती हैं तभी ये लोग हीरो बनते हैं। पर ये लोग ओछी टिप्पणी कर देश की जनता का दिल दुखाते हैं। अगर सलमान ने माफी नहीं मांगी तो वे उसकी फिल्मों का पूर्ण रूप से बहिष्कार करेंगे।

इसके चलते सलमान खान के खिलाफ दिल्ली और मुंबई में एफआईआर दर्ज हुई है। एक बयान के दौरान शिल्पा शेट़्टी ने भी ऐसे ही किसी जातिसूचक शब्द का प्रयोग किया था। इसलिए सलमान के साथ शिल्पा भी लपेटे में आ गई हैं।