सुल्‍तानगढ़ हादसे पर सीएम बोले-यह पर्यटन स्थल नहीं था, प्रशासन की वेबसाइट पर ब्रांडिंग

ग्वालियर। शिवपुरी जिले के जिस सुल्तानगढ़ वाटरफॉल में खतरनाक हादसा हुआ,वह कोई नियमित पर्यटन स्थल नहीं है। वहां एडवेंचर के भाव से लोग चले जाते हैं,भविष्य में ऐसा न हो इसके लिए सावधानी बरतने के निर्देश दिए गए हैं।

सुल्तानगढ़ वाटरफॉल में हुए हादसे के बाद यह वक्तव्य खुद प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने जारी किया था। जहां सीएम सुल्तानगढ़ फॉल को साफ तौर पर खतरनाक स्थल बता रहे हैं, तो वहीं शिवपुरी जिला प्रशासन पर्यटकों को यहां लाने के लिए इसकी ब्रांडिंग कर रहा है। शिवपुरी जिला प्रशासन की वेबसाइट के होम पेज पर सबसे पहले सुल्तानगढ़ फॉल का मनोरम दृश्य गैलरी में अपलोड किया गया है,जिसका साफ इशारा है कि सुल्तानगढ़ वाटरफॉल का लुत्फ उठाने आइए।

सुल्तानगढ़ वाटरफॉल का फोटो अकेला शिवपुरी जिला प्रशासन की वेबसाइट पर ही अपलोड नहीं है, बल्कि टूर एंड ट्रैवल्स की अनगिनत वेबसाइट पर प्रदेशभर के जलप्रपातों में सुल्तानगढ़ का नाम भी प्रमुखता से शामिल है। निजी टूर एंड ट्रिप की वेबसाइटों पर सुल्तानगढ़ वाटरफॉल की भव्यता की जानकारी देना इतना नहीं चौंकाता,बल्कि शिवपुरी जिला प्रशासन की गैलरी में इसे पहले नंबर पर लिया गया है। इंटरनेट पर प्रदेश की अधिकतर पर्यटन की वेबसाइटों पर सुल्तानगढ़ मय फोटो अपलोड है,तो ऐसे में पर्यटक क्यों नहीं यहां बेहिचक जाएंगे।

प्रशासन की वेबसाइट पर इस क्रम में पर्यटन स्थल

पहला -सुल्तानगढ़ वाटर फॉल

दूसरा -शैल चित्र,चुड़ेल छज्जा

तीसरा-कलेक्टोरेट भवन

चौथा-छत्री कै-माधव महाराज

पांचवा-सुरवाया गढ़ी

छटवां-नरवर दुर्ग

सातवां-भदैया कुंड और टूरिस्ट विलेज

बड़ा सवाल: ब्रांडिंग के लिए पर्यटन स्थल,वैसे नहीं, जान से खिलवाड़ क्यों?

सुल्तानगढ़ वाटरफॉल में इस बार हुआ भीषण हादसा पहला नहीं था। यह हादसा अभी तक का सुल्तानगढ़ में सबसे बड़ा हादसा है लेकिन यहां पहले भी दो बार हादसे हो चुके हैं। पहले हुए एक हादसे में तो दो लोग अपनी जान गंवा चुके हैं। खतरनाक स्थल बन चुके सुल्तानगढ़ वाटरफॉल की ब्रांडिंग में तब भी शिवपुरी जिला प्रशासन जुटा हुआ है, यह हैरत और शर्मनाक ही है। लोगों में इससे भ्रम की स्थिति पैदा होती है कि जब प्रशासन की वेबसाइट पर किसी स्थान को पर्यटन स्थल के तौर पर दर्शाया जाए। अधिकृत वेबसाइट सहित दूसरी टूरिंग वेबसाइटों में सुल्तानगढ़ बेहतर डेस्टिनेशन बताया गया है,वहीं गूगल सर्च इंजन पर इमेज कैटेगरी में सुल्तानगढ़ के भव्य दृश्य अपलोड हैं।

सीधी बात

शिल्पा गुप्ता,कलेक्टर,शिवपुरी

सवाल-क्या सुल्तानगढ़ वाटरफॉल शिवपुरी जिले का पर्यटन स्थल है?

जवाब-नहीं, यह पर्यटन स्थल नहीं है,वह वन क्षेत्र है।

सवाल-सीएम घोषणा कर चुके हैं कि सुल्तानगढ़ पर्यटन स्थल नहीं,तब भी शिवपुरी प्रशासन की वेबसाइट पर वह टॉप पर है?

जवाब-इसे दिखवाया जाएगा, उसका फोटो किस रूप में अपलोड किया गया है।

सवाल-सुल्तानगढ़ में इतना बड़ा हादसा हो गया,प्रशासन की वेबसाइट पर सुल्तानगढ़ की भव्यता दिखा पर्यटकों को आकर्षित किया जा रहा है क्यों?

जवाब-वो किसी भी रूप में पर्यटन स्थल नहीं है, वेबसाइट पर अपलोड है,मैं संबंधित से बात करूंगी।