सुसाइड के लिए किले पर चढ़ी छात्रा, साथ में ले गई ऐसी खतरनाक चीज

सोमवार सुबह 10 बजे के करीब किले पर आत्महत्या करने के इरादे से पहुंची किशोरी ने ऑलआउट पी लिया। इसके बाद पुलिस ने किशोर को इलाज के लिए जेएएच के आईसीयू में भर्ती कराया। पुलिस पूछताछ में किशोरी ने बताया कि पढ़ाई में कमजोर होने के कारण उसने आत्महत्या करने का प्रयास किया। ऑलआउट पीने से पहले किशोरी ने मां के नाम पर एक पत्र भी लिखा। यह पत्र भी पुलिस को मिल गया है।

जानकारी के अनुसार पूजा (16) पुत्री भगवती यादव मूल रूप से धौलपुर की रहने वाली है। वह सिरौल स्थित पृथ्वीनगर में नाना पन्नाालाल यादव के यहां रहककर 12वीं की परीक्षा की तैयारी कर रही है। सोमवार की सुबह 10 बजे के लगभग पूजा किले पर पहुंची। जहां उसने आत्महत्या के इरादे से ऑलआउट पी लिया।

इसी बीच किले पर पेट्रोलिंग करने पहुंची पुलिस को कुछ लोगों ने बताया कि किशोरी ने ऑलआउट पी लिया है। इसके बाद मौके पर पहुंची पुलिस को किशोरी के हाथ में ऑलआउट की शीशी भी मिल गई। पुलिस ने किशोरी को इलाज के लिए जेएएच के आईसीयू में भर्ती कराया। इसके बाद पुलिस ने इसकी सूचना उसके नाना पन्नाालाल व मामा को दी। सूचना मिलने पर किशोरी के नाना-नानी व मामा अस्पताल पहुंच गए।

मां- बाप ने गलती की, जो अलग कमरा नहीं दिलाया

आत्महत्या करने का प्रयास करने से पहले पूजा ने एक पत्र लिखा है। जो कि पुलिस को मिल गया है। इस पत्र में किशोरी ने लिखा है कि मामी अब खुश हो जाओ, मैं जा रही हूं। तुम यही चाहती थी कि मैं चली जाऊं, लो मैं जा रही हूं। अब कभी नहीं आऊंगी। मेरे जाने के बाद कोई किसी से कुछ नहीं कहेगा। मेरे मरने के बाद मेरी डेड बॉडी से मामी हाथ तक नहीं लगाएं और न रोएं। आठ दिन से मैं उनकी नौटंकी देख रही हूं। अब सहन नहीं होती।