सोनू निगम के सर मुंडवाते ही कुमार विश्वास का छलका दर्द, फिर चढ़ा सियासी पारा।

बॉलीवुड के मशहूर सिंगर सोनू निगम द्वारा अज़ान को लेकर दिए गए विवाद में अब कवि और आम आदमी पार्टी (AAP) के वरिष्ठ नेता कुमार विश्वास भी कूद पड़े हैं। एक ओर विवाद में फंसे सोनू निगम ने फतवा जारी होने के बाद अपनी नाराजगी जाहिर करते हुए सिर मुंडवा लिया वहीं सोनू के सिर मुंडवाने के बाद कवि और आप नेता कुमार विश्वास ने ट्वीट कर अपने खास अंदाज में बॉलीवुड सिंगर की तारीफ की है। इस मुद्दे पर मचे बवाल पर सफाई देने के लिए सोनू निगम ने प्रेस कांफ्रेस बुलाई थी और उसी दौरान उन्होंने सिर मुंडवा कर सभी को चौका दिया।
डा. कुमार विश्वास ने सोनू के लिए माइक्रो-ब्लॉगिंग वेबसाइट ट्विटर पर लिखा, ‘आपके सच्चे दिल का कोई ‘बाल’ भी बांका नहीं कर सकता दोस्त, @sonunigam… ख़ुद की ज़ुल्फ़ें गिरा कर नफ़रत का मुडंन करा ही दिया।’ वहीं, ट्वीट का जवाब देने में सोनू निगम ने भी देर नहीं लगाई। सोनू ने ट्वीट कर कुमार विश्वास के लिए कहा ‘आपको प्यार भाई…’। अपने एक और ट्वीट में कुमार विश्वास ने मशहूर शायर जाॅन एलिया की शायरी को ट्वीट कर कहा, अपने सर इक बला तो लेनी थी, मैं ने वो जुल्फ अपने सर ली है… ‘ गौरतलब है कि सोनू निगम ने सिर मुंडवाने और 10 लाख रुपये तैयार रखने को लेकर भी ट्वीट किया था।
आपको बता दें, प. बंगाल माइनॉरिटी यूनाइटेड काउंसिल के उपाध्यक्ष सैयद साह अतेफ अली अल कादरी ने ये एलान किया था कि कोई व्यक्ति सोनू निगम का सिर मुंडवाएगा, फटे जूतों की माला पहनाएगा और पूरे देश में घुमाएगा तो वे उसे 10 लाख रुपए का इनाम देंगे। वहीं, सोनू के सिर मुंडवाने के बाद अब सैयद साह अतेफ अली अल कादरी ने कहा है कि सोनू ने उनकी सिर्फ एक बात मानी है। अभी जूतों की माला पहनाया जाना और घुमाया जाना बाकी है। जब तक सोनू तीनों बात नहीं मान लेते हैं तब तक 10 लाख रुपये नहीं मिलेगा।
वहीं, बीजेपी की दिल्ली इकाई के प्रवक्ता तजिंदर पाल सिंह बग्गा ने भी सोनू निगम का साथ देते हुए ट्वीट किया है, ‘@sonunigam जी की ट्वीट पर जिस तरीके से विरोध/फतवे जारी किए जा रहे हैं, लगता है, सही में इन्टॉलरेन्स बढ़ गई है…’ उन्होंने आगे कहा, ‘भले ही लोग सोनू निगम से सहमत हों या नहीं, लेकिन उन्हें बोलने तो दिया जाना चाहिए, क्योंकि सोनू निगन ने जो कुछ भी कहा है, वह किसी एक नहीं, सभी धर्मों के लिए कहा था
क्या है पूरा मामला:- बता दें कि सोमवार सुबह सोनू निगम ने ट्वीट किया था, ‘मैं मुस्लिम नहीं हूं लेकिन रोज सुबह मुझे अजान की आवाज से उठना पड़ता है।’ उन्होंने आगे लिखा था, ‘आखिर कब भारत से ये जबरन धार्मिक भावना थोपना खत्म होगा? वैसे जब मोहम्मद ने इस्लाम बनाया था तब बिजली नहीं थी।’ सोनू निगम ने ये भी कहा, ‘मुझे नहीं लगता कि कोई मंदिर या गुरुद्वारा बिजली का इस्तेमाल उन लोगों को जगाने के लिए करते हैं जो उस धर्म का पालन नहीं करते। तो फिर ऐसा क्यों? गुंडागर्दी है बस।’

Leave a Reply