हाथियों के आतंक से , मुक्त होंगे बलौदाबाजार और महासमुंद

रायपुर: राजधानी रायपुर के करीब पहुंच चुके हाथियों के दल को जैसे-तैसे वन विभाग ने वापस महासमुंद के जंगलों में पहुंच दिया, लेकिन इनके इस सफर ने वन विभाग की मुश्किलें बढ़ा दी हैं,क्यकि ऐसा माना जा रहा है कि ये वापस लौट के फिर रहवासी क्षेत्रो का रुख कर सकते है ,अगर ऐसा होता है तो फिर से भरी भरकम नुकसान कि आशंका जताई जा रही है |क्योकि इनकी संख्या भी 275 के करीब है माना जा रहा है कि ये अभी तक का सबसे बड़ा दल है ,जिसके वापस लौट जाने से अभी तो रहत कि बात है पर आने वाले समय में खतरा हो सकता है
अगर ये दोबारा मार्ग पर लौट सकते है इसलिए इन पर नियंत्रण जरूरी है। विभाग ने नीतिगत निर्णय लेते हुए बलौदाबाजार-महासमुंद क्षेत्र को हाथियों से मुक्त करवाने (निष्कासन) का निर्णय लिया है। इसके लिए विभाग ने कार्रवाई भी शुरू कर दी है। हाथियों के मूवमेंट पर नजर रखने के लिए जल्द इनमें भी कॉलर आईडी लगाई जाएगी। जिससे उनकी लोकेशन का सही पता लगाया जा सकेगा और आने वाले समय में होने वाली दुर्घटनाओं से बच सकेंगे |