15 साल की उम्र में इस एक्ट्रेस ने दिए बोल्ड scene

15 साल की उम्र में बॉलीवुड में छा जाने वाली एक्ट्रेस पद्मिनी कोल्हापुरे आज अपना 52वां जन्मदिन मना रही हैं। इस छोटी सी उम्र में ही पद्मिनी ने दर्शकों को अपनी एक्टिंग का कायल बना दिया था। इतना ही नहीं अपनी फिल्‍म ‘इंसाफ का तराजू’ के ‌लिए उन्हें कई अवॉर्ड भी मिले थे।

पद्मिनी ने अपने करियर की शुरुआत चाइल्ड आर्टिस्ट के तौर पर की थी। लीड एक्ट्रेस के तौर पर पद्मिनी की पहली फिल्म ‘इंसाफ का तराजू’ थी। 80 के उस दशक में पद्मिनी अपने टैलेंट के बूते टॉप की हीरोइनों में शुमार हो गईं थीं। लेकिन क्या आप जानते हैं कि बचपन में ही पद्मिनी पर अडल्ट एक्ट्रेस का ठप्पा लगने वाला था?

इसकी वजह थी कुछ फिल्मों में उनके विवादित सीन। पद्मिनी को किसी भी तरह के रोल से कोई परहेज नहीं था और जो भी रोल उन्हें मिला उसमें पद्मिनी ने खुद को साबित किया। बचपन में ही उन्होंने फिल्म ‘गहराई’ में एक ऐसा न्यूड सीन दिया जिससे लोगों के होश ही उड़ गए। इस सीन की हर तरफ खूब चर्चा हुई।

 

लेकिन इसका फिल्म को काफी फायदा हुआ और ये हिट रही। पद्मिनी को लगा कि इस तरह के सीन से उनके करियर ग्राफ और सक्सेस में इजाफा होगा और शायद इसी चीज को ध्यान में रखते हुए उन्होंने अपनी अगली फिल्म में एक लंबा रेप सीन किया। लेकिन उन्हें अंदाजा नहीं था कि इसके बाद लोग उन्हें अडल्ट एक्ट्रेस का ठप्पा ही दे देंगे।

 

फिल्म थी ‘इंसाफ का तराजू’। इस फिल्म में पद्मिनी के अलावा जीनत अमान और राज बब्बर थे। फिल्म में पद्मिनी ने नाबागिल लड़की का रोल मिला और राज बब्बर को उनका रेप करना होता है। ये रेप सीन तकरीबन 7-8 मिनट लंबा था। इतने लंबे रेप सीन की वजह से खूब विवाद हुआ और पद्मिनी की छवि पर भी काफी असर पड़ा।

 

पद्मिनी कोल्हापुरे को लेकर लोगों के मन में धारणा बदल रही थी। जिस हीरोइन की एक्टिंग के वो दीवाने थे, वही लोग उन्हें अडल्ट एक्ट्रेस का तमगा देने लगे। पद्मिनी को जैसे ही इस बात का अहसास हुआ उन्होंने उस तरह के बोल्ड और रेप सींस से तौबा कर ली। उसके बाद फिर उन्होंने किसी फिल्म में उस तरह के सीन नहीं किए