7 साल पहले डिनर में बिछड़े, अब लंच में मिले मोदी-नीतीश

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पीएम नरेंद्र मोदी की ओर खिंचते जा रहे हैं। शुक्रवा‌र को कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के दोपहर भोज में गैर हाजिर रहे नीतीश शनिवार को पीएम मोदी के लंच में शामिल हुए। इस दौरान नीतीश कुमार ने पीएम मोदी से मुलाकात कर बातचीत भी की। हालांक‌ि मोदी से मिलकर लौटे नीतीश ने कहा इस मुलाकात पर ज्यादा राजनीति नहीं होनी चाहिए। नीतीश ने इसे साधारण मुलाकात बताया, कहा- बिहार में बाढ़ की समस्या को प्रधानमंत्री के सामने रखा गया, जिस पर उन्होंने निदान का आश्वासन दिया है।
सात साल पहले 2010 में एक रात्रिभोज के कैंसल होने के बाद पीएम नरेंद्र मोदी और नीतीश कुमार के बीच कटुता की शुरुआत हुई थी। लेकिन अब नीतीश कुमार राजग की राजसत्ता की ओर फिर से धीरे-धीरे बढ़ रहे हैं। पीएम मोदी ने मॉरीशस के प्रधानमंत्री प्रविंद जगन्नाथ के सम्मान में लंच दिया। जिसमें नीतीश कुमार शामिल हुए जबकि उनको सोनिया गांधी ने भी आमं‌त्रित किया था लेकिन शुक्रवार को नीतीश वहां नहीं गए।
राष्ट्रपति चुनाव के मंथन पर आयोजित सोनिया के इस भोज में सभी विपक्षी दलों को आमं‌त्रित किया गया था। हालांकि जदयू से शरद यादव शामिल हुए पर जदयू अध्यक्ष नीतीश कुमार के नदारद रहने के कई मायने निकाले जा रहे हैं। समूचा विपक्ष नीतीश के इस बदलते पैंतरें से हैरान है। इस पूरे बदलाव पर गहन नजर डालेंगे तो पाएंगे कि पीएम मोदी और नीतीश के मिलने-बिछड़ने की कहानी लंच-डिनर पर शुरू और खतम होती है।

Leave a Reply