BSE सेंसेक्स में 250 अंकों का उछाल, निफ्टी 11,450 पर, वेदांता के शेयरों में दो फीसदी की बढ़त

नई दिल्ली: 

देश के शेयर बाजार के शुरुआती कारोबार में शुक्रवार को मजबूती का रुख है. प्रमुख सूचकांक सेंसेक्स सुबह 9.45 बजे 257.10 अंकों की मजबूती के साथ 37,920.66 पर और निफ्टी भी लगभग इसी समय 70.35 अंकों की बढ़त के साथ 11,455.40 पर कारोबार करते देखे गए. बंबई स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई) का 30 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक सेंसेक्स सुबह 235.04 अंकों की मजबूती के साथ 37,898.60 पर जबकि नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) का 50 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक निफ्टी 52.1 अंकों की बढ़त के साथ 11,437.15 पर खुला.

वहीं गुरुवार को बंबई शेयर बाजार का सेंसेक्स 188 अंक की गिरावट के साथ 37,663.56 अंक पर बंद हुआ. लगातार पूंजी निकासी के बीच तुर्की में वित्तीय संकट को लेकर कमजोर वैश्विक रुख के साथ यह गिरावट दर्ज की गई. अंतरबैंक विदेशी मुद्रा बाजार में कारोबार के दौरान डालर के मुकाबले रुपया के 70.40 पर पहुंचने से भी चिंता बढ़ी. इसके अलावा व्यापार घाटा जुलाई में करीब पांच साल के उच्चतम स्तर 18 अरब डालर पर पहुंच गया. वाणिज्य मंत्रालय ने मंगलवार को बाजार बंद होने के बाद व्यापार आंकड़ा जारी किया था.    तीस शेयरों पर आधारित सेंसेक्स गिरावट के साथ 37,796.01 अंक पर खुला और एक समय 37,634.43 अंक तक चला गया लेकिन इन्फोसिस, सन फार्मा और टाटा मोटर्स में मजबूती से कुछ तेजी आयी.

COMMENT

अंत में यह 188.44 अंक या 0.50 प्रतिशत की गिरावट के साथ 37,663.56 अंक पर बंद हुआ.    स्वतंत्रता दिवस के मौके पर बाजार बुधवार को बंद था. नेशनल स्टाक एक्सचेंज का निफ्टी भी 11,400 अंक के नीचे 11,366.25 अंक तक चला गया. बाद में इसमें सुधार हुआ और अंत में यह 50.05 अंक या 0.44 प्रतिशत की बढ़त के साथ 11,385.05 अंक पर बंद हुआ.    कारोबारियों के अनुसार तुर्की के मुद्रा संकट के बाद एशिया के अन्य बाजारों में कमजोर रुख तथा चीन में आर्थिक नरमी की आशंका से घरेलू बाजार में धारणा प्रभावित हुई. इस बीच, अस्थायी आंकड़ों के अनुसार मंगलवार को विदेशी संस्थागत निवेशकों (एफआईआई) ने शुद्ध रूप से 378.84 करोड़ रुपये मूल्य के शेयर बेचे जबकि घरेलू संस्थागत निवेशकों ने 391.47 करोड़ रुपये मूल्य के शेयर खरीदे.