GST और नोट बंदी के विषय में दिया PM मोदी ने जवाब

एक दिवसीय गुजरात दौरे के दौरान प्रधानमंत्री ने व्यापारियों से मुलाकात की और कहा कि यदि वह जीएसटी में पंजीकरण करवा लेते हैं, तो आयकर विभाग उनके पिछले रिकॉर्ड की जांच नहीं करेगा।
यहां एक रैली को संबोधित करते हुए मोदी ने कहा कि सुधारों और कड़े कदम उठाने के बाद देश की अर्थव्यवस्था अब पटरी पर और सही दिशा में बढ़ रही है। अर्थव्यवस्था के आलोचकों को उन्होंने जवाब देते हुए कहा कि ज्यादातर अर्थशास्त्री एकमत से इस बात पर सहमत हैं कि अर्थव्यवस्था की नींव मजबूत है।

प्रधानमंत्री ने कहा कि हाल के आंकड़ों को देखें तो कोयला, बिजली, प्राकृतिक गैस और अन्य चीजों का उत्पादन तेजी से बढ़ा है। विदेशी निवेशक देश में रिकॉर्ड निवेश कर रहे हैं।

विदेशी मुद्रा भंडार तीस हजार करोड़ से 40000 करोड़ डॉलर हो गया है। जीएसटी का बचाव करते हुए मोदी ने कहा कि नई कर व्यवस्था से कारोबारी हर दिन जुड़ रहे हैं। पिछले कुछ महीनों में 27 लाख अतिरिक्त लोग अप्रत्यक्ष कर व्यवस्था से जुडे़ हैं। उन्होंने कहा कि जीएसटी से भ्रष्टाचार पर लगाम लगा है।