Ind vs WI : 20 दिन में दूसरी बड़ी हार के बाद बोले कोहली, हमें जीतने का कोई हक नहीं

किंगस्टन : वेस्टइंडीज के खिलाफ टी20 मैच में मिली हार के बाद टीम के प्रदर्शन की आलोचना करते हुए भारतीय कप्तान विराट कोहली ने कहा कि उनके खिलाड़ियों ने बल्ले और गेंद दोनों से निराश किया और वे जीत के हकदार नहीं थे.

पहले बल्लेबाजी करते हुए भारत ने छह विकेट पर 190 रन बनाए लेकिन एविन लुइस के 62 गेंद में नाबाद 125 रन की मदद से टी20 विश्व चैम्पियन वेस्टइंडीज ने 18.3 ओवर में लक्ष्य हासिल कर लिया. जीत के हीरो रहे वेस्टइंडीज के खिलाड़ी एविन लुइस ने अपनी पारी में 12 छक्के और छह चौके लगाए.

VIDEO : टीम इंडिया की दो इन दो गलतियों ने एविन लुइस को बनाया T-20 का नया सुपरस्टार

मैच के बाद कोहली ने कहा, ”पहली पारी में भी हम 25.30 रन अतिरिक्त बना सकते थे. हम 230 रन बनाने की स्थिति में थे, लेकिन हमने कई मौके गंवाए. मौके नहीं भुनाने पर आप जीत के हकदार नहीं हैं.”

उन्होंने कहा, ”एक बल्लेबाज को पारी के सूत्रधार की भूमिका निभानी चाहिए थी. दिनेश ने अच्छा खेला लेकिन किसी बल्लेबाज को 80-90 रन बनाने चाहिए थे. इसके बाद हमारी गेंदबाजी भी अच्छी नहीं रही”.

कोहली ने कहा कि टी20 टीम अभी भी बदलाव के दौर में है और कई बार बुरे दिनों का सामना करना पड़ेगा. उन्होंने हालांकि टीम के प्रदर्शन पर खुशी जताई.

VIDEO : विराट बस देखते रह गए और इस नए ‘सिक्सर किंग’ ने बना डाले ये धुंआधार रिकॉर्ड्स

उन्होंने कहा, ”वेस्टइंडीज अच्छी टी20 टीम है और पिछले कुछ साल से यही खिलाड़ी खेल रहे हैं. हमारी टीम अभी बदलाव के दौर में है और हमें उतार-चढावों का सामना करना पड़ेगा.”

दूसरी ओर नौ विकेट से मिली जीत से खुश कैरेबियाई कप्तान कार्लोस ब्रेथवेट ने कहा कि वह खिलाड़ियों के प्रदर्शन से खुश हैं. उन्होंने कहा, ”मैं बहुत खुश हूं. हमने कल बल्लेबाजों को खुलकर खेलने के लिए कहा. मैंने उनसे कहा कि जो अर्धशतक बनाएगा, उसे मेरी मैच फीस का आधा मिलेगा. हम अपने प्रशंसकों को खुश करना चाहते थे.”

WI vs Ind T20 : एविन लेविस के तूफानी शतक से वेस्टइंडीज ने भारत को 9 विकेट से रौंदा

उन्होंने कहा, ”हमने आईपीएल देखा है और हमें पता है कि डैथ ओवरों में भुवनेश्वर कुमार कैसी गेंदबाजी करता है. हम शुरुआती कुछ ओवरों में उसे अधिक गेंदबाजी करते देखना चाहते थे और वैसा ही हुआ”.

‘मैन ऑफ द मैच’ एविन लुइस ने कहा, ”यह अच्छा मैच था. भारत जैसी टीम के खिलाफ शतक बनाना बड़ी बात है. मैं लगातार पांच मैचों में अच्छा नहीं खेल सका लेकिन मुझे खुद पर भरोसा था और आज वह कारगर साबित हुआ.