‘बेगम जान’ के ये 6 दमदार डायलॉग जाे दिमाग को कर देंगे सुन्न

हाल ही में विद्या बालन की मोस्ट अवेटेड फिल्म ‘बेगम जान’ का ट्रेलर रिलीज हुआ। ‘डर्टी पिक्चर’ के बाद विद्या एक बार फिर बोल्ड अवतार में नजर आ रही हैं। फिल्म के 3 मिनट के ट्रेलर में ऐसे ताबड़तोड़ डायलॉग्स हैं जिन्हें सुनकर आपके कान सुन्न हो जाएंगे। आइए सुनते हैं ‘बेगम जान’ के वो डायलॉग्स जिसमें विद्या बालन के जबरदस्त तेवर दिख रहे हैं।

पहला डायलॉगः

बाप, भाई, बेटा, शौहर… बेगम जान की चौखट के उस पार हर मर्द एक मुर्गा है, तीन टांगों वाला मुर्गा।

दूसरा डायलॉगः

जनाब, आप जिसे जुबान से कोठा और दिमाग में रंडीखाना सोच रहे हैं वो मेरा घर है, मेरा वतन।

तीसरा डायलॉगः

एक महीने का वक्त है, सिर्फ एक महीना… महीना हमें गिनना आता है साहब, हर बार साला लाल करके जाता है।

चौथा डायलॉगः

तवायफ के लिए हर दिन एक जैसा होता है, एक बार बत्ती बुझी तो सब एक।

पांचवा डायलॉगः

बेगम जान केंदी हैं कि सिर्फ जिस्म दी नहीं साडे दिल दी भी कोई कीमत होती है।

छठा डायलॉगः

कबीर हिंदू भी हो सकता है और मुसलमान भी… बोलो किसका दा काम तमाम करवाना है।

Leave a Reply